HUM HONGEY KAAMYAB

Email
Printed
HUM HONGEY KAAMYAB
Code: SPCL-2453-H
Pages: 48
ISBN: 9789332415775
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Nitin Mishra
Penciler: Hemant
Inker: Gaurav
Colorist: Sunil
Rs. 30.00
24h.gif
Description देश को खेल राष्ट्र बनाने की आड़ में कुछ लोग खेलते हैं देशवासियों के खून पसीने कि कमाई को हड़पने का एक घृणित खेल. राष्ट्र मंडल खेलों में हुआ है करोड़ों का घोटाला और उसे छुपाने के लिए वो किसी हद तक भी गिर सकते हैं. यहाँ तक कि उन्होंने रच दिया है हजारों निर्दोषों की जान लेने का षड्यंत्र भी. देश के सच्चे सपूतों ध्रुव, तिरंगा, परमाणु और वक्र को इस षड्यंत्र की भनक लगती है. चारों रक्षक अब एकजुट हो गए हैं दुश्मनों का मुह काला करने के लिए और राष्ट्र मंडल खेलों को बनाने के लिए कामयाब.
Bundled Collections that have this Comics

Reviews

Thursday, 02 October 2014
Good comic with a satisfied artwork dhurv, tiranga aur parmanu Sach much kamyab ho gaye but mostly I like in this comic was the return of varka and his team please rc bring more comics of varka and other old charecters
RISHIT RISHIT
Monday, 08 September 2014
dhruv tiranga parmanu ne kamal kar dikhaya.
yashpal
Tuesday, 04 March 2014
badhiya comic thi ise padhte hue ye nhi lagega ki bore ho rhr hai
shivansh sinha
More reviews