PREM PARIKSHA

Email
Printed
PREM PARIKSHA
Code: SPCL-2523-H
Pages: 48
ISBN: 9789332416475
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Tarun Kumar Wahi, Anurag Kumar S
Penciler: Sushant Panda
Inker: Sangeeta Tripathi
Colorist: Basant Panda
Rs. 50.00
Add to wish list
Description धूर्त बांकेलाल ने इस बार महारानी स्वर्णलता को इतना भड़का दिया कि स्वर्णलता ने महाराज विक्रमसिंह को अपने प्रेम की परीक्षा देने के लिए अमरप्रेम गुफा में भेज दिया| अमरप्रेम गुफा जहां की कठिन परीक्षाओं में सेंकडो सालों से कोई सफल हो कर जीवित बाहर नहीं निकल पाया| बांकेलाल को पूर्ण विश्वाश है कि इस बार महाराज विक्रमसिंह का पत्ता जरूर कटेगा लेकिन एक छोटी सी मुसीबत भी बांकेलाल के गले पड़ गई| विक्रमसिंह अमरप्रेम गुफा में अकेला नहीं गया, बांकेलाल को अपने साथ ले कर गया| क्या विक्रमसिंह का अंत करके बांकेलाल गुफा से जीवित बाहर आ पायेगा?
Bundled Collections that have this Comics

Reviews

Wednesday, 05 March 2014
Personally I did not like this comic a lot. It was just average story with artwork required some impetus.
Sunny Arora
Thursday, 13 February 2014
A good story of Bankelal with good artwork
Prince Jindal
Saturday, 08 February 2014
kahani me vikramsing rani ke liye apne sachhe prem ko sabit karne ke liye prem oariksa dene nikalta hai... kahani achhi hai aur comedy bhi... artwork bahot hi achcha bana hai.
PREM YADAV
More reviews