DOGA DIGEST 6

Email
Printed
DOGA DIGEST 6
Code: DGST-0067-H
Pages: 96
ISBN: 9789332418462
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Sanjay Gupta, Tarun Kumar Wahi
Penciler: Manu
Inker: N/A
Colorist: N/A
Rs. 50.00
Add to wish list
Description आखि़री गोली-# 546 जुर्म की दुनिया में तहलका मचाने वाला गनमास्टर जिसके अचूक निशाने से आज तक कोई नहीं बचा! जिसके कातिल निशाने का शिकार हो गया कानून का चीता कहा जाने वाला इंस्पेक्टर चीता भी! उस गनमास्टर को जब ललकारा डोगा ने तब उन दोनों के बीच शुरू हुआ एक खूनी खेल जिसका फैसला उसी के हक में जाना था जिसके पास बचती आखि़री गोली! डोगा और झबरा-# 555 मोनिका को मिलता है एक प्यारा सा झबरीला कुत्ता झबरा जोकि वास्तव में एक खूंखार दरिंदा है जो पल भर में मासूमों को नोच डालता है! आखिर क्या था उसकी खूंखारता का राज! समस्या को जड़ से उखाड़ फेंकने वाला डोगा क्या इस समस्या को जड़ से उखाड़ पाया? सुपर बॉय-# 566 काल्पनिक सुपरहीरोज के हैरतअंगेज कारनामों से प्रेरित होकर जब एक छात्र राहुल निकल पड़ा सुपरबॅाय बनने के लिए तो उसके रास्ते में आ खड़ा हुआ डोगा! मगर डोगा की नसीहतें उस बच्चे के दिमाग से सुपरबॅाय बनने का भूत ना उतार पाईं! आखिर क्या हुआ इस टकराव का अंजाम?
Bundled Collections that have this Comics

Reviews

Thursday, 13 February 2014
out of these 3 comics only nishana dil par is worth reading...esp. doga and jhabra is pretty lame
vivek singh
Sunday, 09 February 2014
its collection of 3 doga old comics .all the comics are very good and the villain of first 2 are very powerful but doga beat them at the last.tisri comic hai ek bache ki jo super hero banna chahta hai. all and all all comic are very good.
hemant prasad
Saturday, 08 February 2014
All the three comics are great in terms of story as well as artwork & Aakhiri Goli is the best of all. Rest two are also very good. A must have collection overall.
Rajal Sharma
More reviews