DOGA DIGEST 7

Email
Printed
DOGA DIGEST 7
Code: DGST-0071-H
Pages: 96
ISBN: 9789332418509
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Sanjay Gupta, Tarun Kumar Wahi
Penciler: Manu
Inker: N/A
Colorist: N/A
Rs. 50.00
Add to wish list
Description गोल्डन हत्यारा-589- गोल्डन हत्यारा जो मुम्बई में सनसनीखेज हत्याएं और चोरियां कर अपने शिकार का पूरा शरीर एक गोल्डन पैंट से रंग डालता था । डोगा उस हत्यारे की खोज में निकला तो जा टकराया एक चोर कुबडे़ से जिसके पास था एक खतरनाक सफेद चूहा। तो क्या यही था वो गोल्डन हत्यारा जिसे मुम्बई पुलिस कुत्तों की तरह सूघंती फिर रही थी। आखिर क्या रहस्य था गोल्डन हत्यारे का? कुत्ता राज- 598- दीवाली के तोहफे के रूप में अदरक चाचा सूरज के लिये खरीद लाए प्यारा सा एक कुत्ता थडंर। लेकिन कोई नहीं जानता था कि वो प्यारा सा कुत्ता थडंर एक शैतान साबित होगा। शैतान थडंर ने सभी कुत्तों को सम्मोहित कर के बना लिया अपना गुलाम और निकल पड़ा इन्सानों पर कायम करने कुत्ताराज! डोगा ने अपनी कुत्ता फौज को बुलाने के लिये बजाई डॉग व्हिसल। लेकिन ये क्या? आज डॉग व्हिसल सुनकर भी नहीं आई कुत्ता फौज। तो डोगा कैसे करेगा अब शैतान थडंर के कुत्ताराज का अंत? जबरदस्त- 614- एक खतरनाक अपराघी ‘जबरदस्त’ ने एक टूरिस्ट बस में लगा दिया स्पीड बम। जो बस की गति 50 किलोमीटर प्रति घण्टा से नीचे होते ही जबरदस्त घमाके के साथ फट जाने वाला था। वह टूरिस्ट बस 40 यात्रियों को लेकर मौत के सफर पर निकल चुकी थी। डोगा के सामने थी उस बस के यात्रियों को बचाने की जबरदस्त चुनौती। लेकिन बस को रोका तो होगा जबरदस्त धमाका। कैसे किया डोगा ने इस चुनौती का सामना?
Bundled Collections that have this Comics

Reviews

Thursday, 13 February 2014
i'm giving this issu 4.5 star only because of golden hatyara..story of golden hatyara is very good and is like a fresh air for all comics lovers...kutta raj has nothing to talk about and jabardast is okay..buy this issue for 'golden hatyara'
vivek singh
Saturday, 08 February 2014
A collection of 3 classic stories of Doga the great with great artwork.
Rajal Sharma
Friday, 07 February 2014
ab jabardast jabardast kya bolu...isme to ek comics ka naam bhi jabardast hai..isme teen comics hai jisme golden hatyara, kuttaraj and jabardast shamil hai ..teeno hi comics badiya hai or last ki comics jabardast me kafi rehesya romanch hai jo ki ek chalti bus me bomb ke upar story hai ab na to bus ko roka ja sakta hai or na hi uski speed kam ki ja sakti hai kyunki dono hi surto me usme laga bomb fat jayega..
rajiv choudhary
More reviews