BHERIYA DIGEST 1

Email
Printed
BHERIYA DIGEST 1
Code: DGST-0080-H
Pages: 160
ISBN: 9789332418592
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Parshuram Sharma, Tarun Kumar Wa
Penciler: Dheeraj Verma
Inker: N/A
Colorist: N/A
Rs. 100.00
Add to wish list
Description भेड़िया-0030 काला बच्चा ने दुनिया भर के चुने हुए खूंखार और शातिर अपराधियों को जमा किया! उसका प्लान था असम के जंगलों में स्थित भेड़ियामुख पर्वत से भेड़िया की सोने की मूर्ति हासिल करना! भेड़ियामुख पर्वत के चारों ओर रहने वाले बगांडा कबीले वालों का मानना था कि अगर मूर्ति बाहर गई और उस पर किसी कुआंरी कन्या का रक्त टपका तो भेड़िया जीवित हो जाएगा! तो क्या हुआ आखिर इस सबका अंजाम? क्या भेड़िया जीवित हुआ? भेड़िया आया-0517 काला बच्चा और उसके साथियों ने बगांडा कबीले के पूज्य भेड़िया की मूर्ति चुरा ली! अंजाने में उस पर कुआंरी कन्या का रक्त टपका और हजारों वर्ष बाद भेड़िया जीवित हो गया! एलफांटो-0523 भेड़िया के जिंदा हो जाने की खुशी मना रहे जंगलियों के सामने आया एक जंगली हाथी जोकि मनुष्य की बोली बोलता था! वो था एलफांटो जोकि आधा मानव और आधा हाथी था! उसने भेड़िया को दे डाली चुनौती! अब जंगल में या तो भेड़िया रहेगा या एलफांटो! क्या हुआ इस टकराव का अंजाम? ग्रीन गोल्ड-0539 भेड़िया के दुश्मनों ने इस बार कर दिया है भेड़िया फौज को ही उसके खिलाफ! वो भेड़िया को देखते ही फाड़ खाने को हैं बेताब! आखिर ऐसा क्या हो गया है कि उनकी स्वामीभक्ति बदल गई है नफरत में! क्या भेड़िया अपनी ही भेड़िया फौज से बच पाएगा?
Bundled Collections that have this Comics

Reviews

Tuesday, 26 August 2014
My first Bheriya Comic... wanted to know much more about so I got this comic.. The story of KALA BACCHA (bheriya) was nice.The story of King Zabran(bheriya aaya) n Elphanto were average. Overall must buy if u wanna know more about bheriya
Rahul R Panelia
Tuesday, 27 May 2014
Bheriya digests are easy to read. A collectible type. With excellent classic story and art.
AyushGupta
Monday, 10 February 2014
Is comics se shuruaat huyi thi Raj Comics ek bade hero Bhediya ki.....bhediya kahani thi ek aise bhediya manav ki jise 50000 saal pahle ek shaap ke karan sone ki moorti me badalna pada....aur 50000 saal baad jab wo zinda hua to ban gaya Aasaam ke jungalon ka rakshak.... Bhediya ki shuruaati comics ka gajab combination.... must buy.
Mukesh Gupta
More reviews