DHRUVA DIGEST 18

Email
Printed
Code: DGST-0114-H
Pages: 204
ISBN: 9789332427129
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Jolly Sinha
Penciler: Anupam Sinha
Inker: Vinod Kumar, Vitthal Kamble, Nar
Colorist: Sunil Pandey
Rs. 160.00
Add to wish list
Description बौना वामन #0195-नारका जेल पर हमला किया एक रहस्यमय यंत्र मानव ट्रोनिका ने! और उसने छुड़ा लिया खिलौनों को उँगलियों पर नचाने वाले बौना वामन को! दूसरी तरफ डाक्टर पिल्लै और श्वेता ने मिल कर एक ऐसी चिप इजाद की है जो किसी के दिमाग की कमांड से किसी इलोक्ट्रोनिक यंत्र को चला सकता है! पर इससे पहले कि वो उस चिप को उसके मालिक मिस्टर हराकी और तकाशी को सौंपते उसको चुराने आ पहुंचा बौना वामन! आखिर किसने छुड़ाया बौना वामन को और क्यों चाहिए उसे वो चिप! क्या ध्रुव इस गुत्थी को सुलझा पाया या इस बार चल गई ट्रिक बौना वामन की! काल ध्वनि #0210-वापस आ गया है आवाज का जादूगर ध्वनिराज! और इस बार वो अपने साथ लाया है ऐसा घातक हथियार जो राजनगर को धूल में मिलाने की क्षमता रखता है! क्या ध्रुव उसे रोक पायेगा या उसका काल बनेगा कालध्वनि? शह और मात #0215-एक रहस्यमय शख्स शतबुद्धि मनोवैज्ञानिकों की हत्या कर चुरा रहा था उनका दिमाग! और बना रहा था एक ब्रेन सिस्टम! इसी कड़ी में एक मनोवैज्ञानिक नटालिया पर हुआ हमला जिसे ध्रुव ने बचा लिया! पर अब शतबुद्धि को चाहिए ध्रुव का दिमाग! क्योंकि ध्रुव का दिमाग ही पूरा कर सकता है उसके सिस्टम को! पर क्या ध्रुव का दिमाग चुराना इतना आसान है! बिसात बिछ चुकी है चालें चली जा चुकी है! अब देखना है कौन देता है किसको शह और मात!

Reviews

There are yet no reviews for this product.