PRET UNCLE

Email
Printed
PRET UNCLE
Code: SSPC-0002-H
Pages: 64
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Tikaram Sippi
Penciler: Vinod
Inker: Vinod
Rs. 80.00
Add to wish list
Description प्रेत अंकल : दौलत के भूखे भेड़ियों से जान बचाने के लिए भागी मासूम जा पहुंची कब्रिस्तान और टकरा गई एक प्रेत से और कह बैठी उसे अंकल! क्या वो प्रेत उस मासूम की बलि लेगा या उसे बचा कर बनेगा उसका प्रेत अंकल!

Reviews

Sunday, 14 September 2014
All the comics in this digest is awesome
ravinder singh
Sunday, 23 March 2014
प्रेत अंकल 1993 में प्रकाशित हुई थी यह साइज़ में कॉमिक्स कम और ग्राफ़िक नोवेल अधिक थी और कहानी भी स्याह और मासूमियत का मिश्रण थी कुलमिलाकर एक्शन की नहीं लेकिन कहानी कि दृष्टि से ये कॉमिक्स बोहोत ही अच्छी थी और दिल को छू गयी थी। राज कॉमिक्स का आज भी कॉमिक्स को भव्य बनाने के लिए लार्ज फॉर्मेट का इस्तेमाल करना चाहिए कुछ विशेष कहानियो के लिए.विनोद जी का चित्रांकन सदेव कि तरह बेहद अच्छा था। 9/10.
sachin dubey
Monday, 10 February 2014
A new breed of heroes...literally. Here the ghosts are the heroes and Pret Uncle is the main character. Story is straightforward but treatment is unique with horror as well as comedy elements at places. Artwork is also top class. Unfortunately very few of such super-digests were made, and Pret Uncle series was stopped after just 3 comics... certainly collectible issue.
Anubhav Dimri
More reviews