SARVNAYAK COLLECTION SET Q4 2018

Email
Printed
SETS-0198
Code: SETS-0198-H
Pages: 960
ISBN: 9789332431898
Language: Hindi
Colors: Four
Paper: Glossy
Condition: Fresh
Price: Printed
Rs. 990.00
Add to wish list
Description Includes Following Comics: YUGANDHAR, SARVDAMAN, SARVYUGAM, SARVSANGRAM, SARVSANHAAR, SARVAMANTHAN, SARVASANDHI, SARVKRANTI, SARVSHAKTI, SARVAAGAMAN and a Free Poster हर युग में मची हुई है प्रलय और हर युग के रक्षक अपने युगों, अपने लोगों की रक्षा करने के लिए उपलब्ध नहीं हैं क्योंकि चारों युगों के महानायकों को एक महाशक्ति युगम ने एक शर्त के साथ एक ही मंच पर ला खड़ा कर दिया है| शर्त यह है कि सतयुग, त्रेतायुग, द्वापरयुग के महानायक एक तरफ और कलियुग के महानायक दूसरी तरफ रहेंगे| दोनों दलों के महायोद्धाओं के बीच होंगी प्रतिस्पर्धाएं और जो भी दल जीतेगा उसका ही युग ब्रह्मांड में अस्तित्व में रहेगा दूसरे दल का युग हमेशा के लिए मिटा दिया जाएगा! समय सीमित है वर्तमान में मौत से जूझते अपने- अपने लोगों और भविष्य में अपने- अपने युगों को बचाने के लिए रक्षकों को लड़ना ही होगा एक युद्ध- एक युग नामक देवताओं का रचा यह रहस्यमयी महारण!

Reviews

There are yet no reviews for this product.