ADAMKHOR HATYARA

Email
Printed
ADAMKHOR HATYARA
Code: GENL-0194-H
Pages: 32
ISBN: 9788184916003
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Tarun Kumar Wahi
Penciler: Dhammi, Vinod
Inker: N/A
Colorist: N/A
Paper: Glossy
Condition: Fresh
Price: Printed
Rs. 75.00
Add to wish list
Description 15 साल पहले हुए एक हादसे में प्रोफेसर करण दीवान और उसका ड्राईवर बहादुर प्रोफेसर दीवान के फार्म हाउस पर एक रहस्यमय हत्यारे के हाथों मारे जाते हैं! हत्या के बाद प्रोफेसर दीवान का नौकर करमू ऐसा फरार होता है कि दुबारा ढूंढे नहीं मिलता! 15 साल बाद प्रोफेसर दीवान की बेटी पारुल अपने कुछ दोस्तों के साथ उसी फार्म हाउस पर आती है! जहाँ उनका सामना होता है उसी रहस्यमयी हत्यारे से जो एक-एक करके उनको मार कर उनका खून पी जाता है! आखिर कौन था वो रहस्यमय हत्यारा! और क्यों बन गया था वो एक आदमखोर? क्या पारुल इस रहस्य को जान पाई? जानने के लिए पढ़े आदमखोर हत्यारा!

Reviews

Friday, 14 February 2014
overall it was a good comic artwork was nice story was good also
Prince Jindal
Saturday, 01 February 2014
Thrill comics are really good ones
Sunny Arora
Wednesday, 28 December 2011
kahani 10 saal lambi journey ki hai aadamkhor hatyaare ke.....A very Good THS....aisi kahaniyan hi asli mazaa deti hain....jinhe padhte huye khud reader bhi lagbhag apna BP high kar le...hahaha kahani ek badhiya THS hai....darr bharpoor hai....suspence bhi bana rehta hai. kahani badhiya hai..jaroor padhiye. Strongly Recommended.
YOUDHVEER SINGH
More reviews