JADUGAR DANGA

Email
Printed
JADUGAR DANGA
Code: GENL-0203-H
Pages: 32
ISBN: 9788184916096
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Papindar Juneja
Penciler: Bedi
Inker: N/A
Colorist: N/A
Paper: Glossy
Condition: Fresh
Price: Printed
Rs. 50.00
Add to wish list
Description उधमपुर के राजा उधमीसिंह के कहने पर उसके जासूस पोपट और चौपट ने कर लिया बांकेलाल का अपहरण। अपनी जान बचाने के लिए बांकेलाल ने चलाया ऐसा चक्कर कि विक्रमसिंह और उधमीसिंह के बीच हो गया युद्ध का ऐलान। लेकिन विक्रमसिंह के सामने उधमीसिंह की नहीं चली चाल और वो दुम दबा कर भागा और टकरा गया जादूगर डांगा से। और डांगा की जादुई शक्ति के कारण एक बार फिर बांकेलाल पहुंच गया उधमीसिंह के सामने। लेकिन बांकेलाल ने इस बार भी चलाया ऐसा चक्कर कि विक्रमसिंह बन गया जादूगर डांगा का कैदी और उधमीसिंह विक्रमसिंह का रूप धर कर बन गया विशालगढ़ का राजा।
Digests that have this Comics

Reviews

Thursday, 30 October 2014
Udampur ke raj jassos popat chopat ne kar liya bankelal ka apharan . What happens next? Read to find out.
RISHIT RISHIT
Thursday, 13 February 2014
A good story of Bankelal with good artwork
Prince Jindal
Monday, 10 February 2014
A good story with a good artwork.
Rajal Sharma
More reviews