MAHABALI COLA

Email
Printed
MAHABALI COLA
Code: GENL-0388-H
Pages: 32
ISBN: 9788184917949
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Tarun Kumar Wahi
Penciler: Ram Wiker
Inker: N/A
Colorist: N/A
Paper: Plain
Condition: Old Stock
Price: Stickered
Rs. 30.00

Reviews

Saturday, 15 February 2014
Its very good comic artwork is average
Prince Jindal
Monday, 10 February 2014
विदिशा की राजकुमारी चीला जिसकी थी जिद की वो करेगी संसार के सबसे शक्तिशाली पुरुष से। अनेक बलशाली योद्धा आये राजकुमारी से शादी की इच्छा लिया परन्तु राजकुमारी की बल परीक्षा में नहीं हो सका कोई भी सफल। तब बल परीक्षा देने आया एक दानव महाबली कोला जिसने राजकुमारी की बल परीक्षा में प्राप्त की सफलता। माता-पिता के विरोध के बावजूद एक दानव से शादी के लिए तैयार हो गयी राजकुमारी चीला और उसके साथ भाग निकली। परन्तु तब हुआ उसको अपनी गलती का एहसास क्योंकि महाबली कोला की निर्दयता और मानव भक्षी आदत को देख राजकुमारी चीला को हो गयी महाबली कोला से घृणा। परन्तु अब महाबली कोला के चंगुल से उसका निकलना था मुश्किल। फिर क्या हुआ? जानने के लिए पढ़ें।
Mukesh Gupta
Sunday, 02 February 2014
AJAY KI BAAT SE SEHMAT HU, KOLA KO ITNA TAKATVAR DIKHA EK JHATKE ME MAAR DIYA GYA LAST ME ..... NOT GOOD. ARTWORK BEHAD SURUAATI COMICS WALA PAR THODA BEHTER. KHRIDNE SE PEHLE LAGA THA KI TILISMDEV KI COMIX HAI PAR NHI HAI KOI GURUDEV HAI JO LAST ME EKDUM AAKE COLA KO MAR DETA HAI. OVERALL GOOD COMICS CONSIDERING OLD TIME READERS DEMAND.
Amber Gupta
More reviews