GHAR KA SHER

Email
Printed
GHAR KA SHER
Code: 11912
Pages: 288
ISBN: 9789332419858
Language: Hindi
Colors: Single
Author: Anil Mohan
Paper: Plain
Condition: Fresh
Price: Printed
Rs. 80.00
Add to wish list
Description देवराज चौहान की दौलत पर हाथ मारकर निहाल सिंह अपने घर में जा घुसा। उस घर में जहां एक-से-एक वहशी दरिंदा था। निहाल सिंह जानता था कि उसके घर में आकर कोई उस पर हाथ नहीं डाल सकता। क्योंकि वह अपने घर का शेर था लेकिन...सामने देवराज चौहान था और देवराज चौहान हर कीमत पर उस घर के शेर का शिकार करना चाहता था! इसके लिए देवराज चौहान को उन दरिंदों की मौत की बस्ती में कदम रखना पड़ा और फिर...!
Bundled Collections that have this Comics

Reviews

There are yet no reviews for this product.