DHRUVA DIGEST 4

Email
Printed
DHRUVA DIGEST 4
Code: DGST-0060-H
Pages: 96
ISBN: 9789332418394
Language: Hindi
Colors: Four
Author: Anupam Sinha
Penciler: Anupam Sinha
Inker: N/A
Colorist: N/A
Paper: Plain
Condition: Fresh
Price: Printed
Rs. 75.00
Add to wish list
Description लहू के प्यासे #147: गृह मंत्रालय के विशेष आदेश पर राजन मेहरा को जाना पड़ता है राजस्थान, जहां तस्करों ने मौत का आतंक मचा रखा था! वहां से आती है राजन के लापता होने की खबर! ध्रुव फौरन छानबीन के लिए राजस्थान जाता है! वहां उसका वास्ता उन तस्करों से पड़ता है जो बन जाते हैं उसके लहू के प्यासे और गिरा देते हैं ध्रुव की लाश ! महामानव #179: उत्तरी ध्रुव के बर्फीले इलाके में पहुंचा भारतीय दल एक मृत ज्वालामुखी के मुहाने को खोद देता है! जिससे बाहर आता है करोड़ों साल पहले पृथ्वी पर पाया जाने वाला दानव प्राणी डायनोसोर! छानबीन करने के लिए ध्रुव पहुंचता है उत्तरी ध्रुव और वहां उसका सामना होता है दो सौ करोड़ साल से जिंदा महामानव से जिसकी मानसिक शक्तियां तारों को भी हिला सकती हैं,ग्रहों को घुमा सकती हैं! जिसके सामने आज का आधुनिक मानव आदिमानव से ज्यादा हैसियत नहीं रखता और उसका मकसद है मानव के विकास को फिर से उस स्तर पर पहुंचा देना जिससे कि महामानवों की उत्पति हुई थी मगर इस चीज की कीमत है मानवों का सर्वनाश तो क्या ध्रुव निपट पायेगा इस सर्वश्रेष्ठ मस्तिष्क से? वू-डू #185: सुपर कमांडो ध्रुव का सामना हुआ इसबार एक ऐसे अपराधी से जो अपराध करने के लिए इस्तेमाल करता है अफ्रीका के घने जंगलों से निकले सबसे प्राचीन और खतरनाक तंत्र वू-डू का! वू-डू बनाता था अपने शिकार का वू-डू पुतला! पुतले की गर्दन तोड़ी जाए तो टूट जाती थी शिकार की भी गर्दन! अब ध्रुव की जान है सिर्फ उस अपराधी की उंगलियों की मोहताज क्योंकि बना लिया है उसने ध्रुव का भी वू-डू पुतला !तो क्या बचा पायेगा ध्रुव अपनी जान या उसकी जान लेने में सफल हो जाएगा वू-डू?

Reviews

Thursday, 06 February 2014
is Digest me aap ko milegi 3 comics... teeno comics bahot achhi hai... jis me mujhe Voo-Doo best lagi... sabhi ka artwork achcha bana hai.
PREM YADAV
Wednesday, 05 February 2014
Read it a very long time ago & still remember it. All the comics are really good & i don't have this digest in my collection as yet.
Rajal Sharma
Thursday, 29 August 2013
Voo-Doo - Good(4/5) Mahamanav- Better (4.5/5) Lahoo Ke Pyaase - Best (5/5) Go for it
Avinash Tiwari
Saturday, 29 December 2012
kahani aur Artwork dono badhiya hai.
Avenger
Wednesday, 15 August 2012
these are one of the finest comics of dhruva, all are wonderful. if i will have to choose one this will be very difficult because all are just mind blowing. so recommended
ABHISHEK SINGH
Monday, 25 June 2012
Kya bolun yaar.. Lahu k Pyase is itself worth 50rs. and 5 stars. rest 2 stories are just added bonus..
Saurabh Agrawal
Friday, 16 December 2011
Teen SCD ke Gems Ek saath Mil jaayein toh isse badi kya cheez hai....yeh teeno stories SCD ki Gems issues mein hain.. Jaroor Padhiye.
YOUDHVEER SINGH
Saturday, 26 November 2011
No matter who you are (new or old reader), the writings and drawings of Anupam Sinha--especially during this period--are timeless. I recommend it to all readers.
Ajaydeep Dhillon
Saturday, 05 November 2011
Is digest mein aaye teeno comics dhamakedar hain... artwork ke toh kahane hi kya... just superb...
Sukumar Chaudhary